The FactShala

तथ्य बिना सत्य नहीं

बदलू टोला पंचायत में मुखिया के लिए सबसे बेहतर प्रत्याशी है राजीव कुमार चौधरी !

1 min read
बदलू टोला पंचायत

बदलू टोला पंचायत

The FactShala

बदलू टोला पंचायत में मुखिया के लिए सबसे बेहतर प्रत्याशी है राजीव कुमार चौधरी !

गरखा विधानसभा क्षेत्र के बदलू टोला पंचायत में मुखिया प्रत्याशियों की बाढ़ आ गई है. आलम ये है की हर गांव से मुखिया पद की दावेदारी ठोकी जा रही है. आपको बता दे वर्तमान मुखिया कांति देवी तीसरी बार इस पद पर कार्यरत है. इससे पहले मुखिया रहे देवराज पर 2012 में पंचायत शिक्षकों का मानदेय भुगतान नहीं देने जैसे गंभीर आरोप लगे थे । तब जिला अधिकारी के हस्तक्षेप पर उन्होंने भुगतान किया. कांति देवी पर भी कई आरोप है. ऐसे में सवाल उठता है की फिर 2021 में पंचायत की जनता किसे मौका देगी ?

बदलू टोला पंचायत
बदलू टोला पंचायत

बिहार में चुनाव की तारीखों का ऐलान अभी नहीं हुआ है. evm मामले को लेकर जिस तरह से पटना हाई कोर्ट में मामला लटका हुआ है ऐसे में अनुमान लगाया जा रहा है की जून से पहले चुनाव संभव नहीं है. चुनाव टालने से कई प्रत्याशियों का खेल बिगड़ सकता है तो कुछ लोगों को फायदा भी हो सकता है. सभी प्रत्याशी जोड़ शोर से प्रचार में जुट गए है. बदलू टोला पंचायत के मरहियाँ ग्राम निवासी राजीव कुमार चौधरी की पत्नी स्वाति देवी भी इस बार मुखिया उम्मीदवार के तौर पर मैदान में है. स्वाति देवी एक ग्रेजुएट महिला है. पढ़ी लिखी होने के साथ साथ राजनीती और गांव समाज की भी अच्छी समझ रखती है.

बिहार चुनाव विश्लेषण : तेजस्वी की ताजपोशी से सहमे बिहारियों के लिए !

स्वाति के पति राजीव कुमार चौधरी एक सामाजिक युवा है. क्षेत्र के गरीब जनता के लिए हमेशा तत्पर रहने वाले राजीव पहली बार चुनाव में किस्मत आजमा रहे है. राजीव का रिश्ता प्रदेश के हर पोलिटिकल पार्टी के साथ अच्छा है. केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह के बेटे पंकज सिंह हो या बिहार के बाहुबली नेता जीतेन्द्र स्वामी सबके साथ अच्छे सम्बन्ध है. 2017 उत्तर प्रदेश के चुनाव में राजीव नॉएडा जाकर पंकज सिंह का चुनाव प्रचार कर चुके है. राजीव के बारे में पंचायत के लोग जानते है की आधी रात को भी वो किसी के मदद को तैयार रहते है. लोगों का कहना है की पंचायत में मुखिया पद के लिए वो सबसे बेहतर उम्मीदवार है. राजीव की राजनीतिक पकड़ और स्वाति देवी की शिक्षा लोगों को खूब भा रहा है.

पंचायत के कई गांव उनके समर्थन में खड़े है, उनका मानना

rajiv kumar chaudhary badlutola
rajiv kumar chaudhary badlutola
है की राजीव अपने राजनीतिक रसूख का फायदा पंचायत को दिलवा सकते है. उनके सम्बन्ध प्रदेश के हर पार्टी के नेताओ से बेहतर है जिसका फायदा वो पंचायत के काम करवाने के लिए उठाएंगे. राजीव को मिल रहा जन समर्थन कई प्रत्याशियों को परेशान कर रहा है. पंचायत में दबी जुबान लोग राजीव की चर्चा कर रहे है. उन्हें उम्मीद है की इस बार राजीव की पत्नी मुखिया बन कर पंचायत का उद्धार करेंगी ! commission-of-india

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *