The FactShala

तथ्य बिना सत्य नहीं

मोदी को फांसी दे दूंगा : प्रदर्शन और लिबरल मीडिया बच्चो को आतंकी बना रहा है ?

1 min read
मोदी को फांसी दे दूंगा

मोदी को फांसी दे दूंगा

The FactShala

मोदी को फांसी दे दूंगा : प्रदर्शन और लिबरल मीडिया बच्चो को आतंकी बना रहा है ?

देश में प्रसारित होने वाले न्यूज चैनल से सावधान रहने की जरुरत है. अपने अजेंडे के तहत किसी व्यक्ति के प्रति इतनी नफरत फैलते है की आपका बच्चा उसकी हत्या करने की कल्पना करने लगता है. मीडिया तो नफरत के कारोबार में फल फूल रहा है लेकिन समाज बर्बाद हो रहा है. स्थिति इतनी खतरनाक हो गई है की बच्चे भी इससे अछूता नहीं है. पिछले साल दिल्ली से आंदोलन में एक नया प्रयोग हो रहा है. मोदी के प्रति छिपी बेपनाह नफरत शाहीन बाग़ प्रदर्शन में खुल कर दिखने लगा. एक ताज़ा वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसे देखने बाद यह विश्वास हो जाता है की किसान आंदोलन शाहीन बाग़ पार्ट 2 है. देश को प्रधानमंत्री को खुलेआम गाली देना, मौत की दुआएं मांगना या धमकी देना अब एक ट्रेंड बन गया है.

मोदी को फांसी दे दूंगा
मोदी को फांसी दे दूंगा

शाहीन बाग़ प्रदर्शन के समय प्रधानमंत्री ने कहा था की यह कोई संयोग नहीं बल्कि प्रयोग है. सच में वह एक प्रयोग ही था, क्युकी प्रदर्शन का तरीके बेहद ‘रचनात्मक’ था। चुनी हुई सरकार के खिलाफ कुछ सौ लोगों को लेकर सड़क पर बैठ जाओ. जो हाँ में हाँ ना मिलाए उसे बिका हुआ और संघी बता दो. बच्चों के मुंह कमरों के सामने मोदी मुर्दाबाद बुलवाना, मोदी को गोली मार देने की बात करना हो या उन्हें फांसी देने की बात सबकुछ नया था. इससे पहले राजनीतिक कार्यकर्ताओं के मुंह से ये बातें निकलती थी जिसे लिबरल लोगों ने नया आयाम देते हुए मासूमों के मुंह में दाल दिया. शाहीन बाग़ प्रोटेस्ट में एक नवजात की बलि दे गई, तो कई नन्हे बच्चों के ऐसे वीडियो वायरल हुए जिसमे वो मोदी को गोली मार देने की बाद कहते सुने गए थे. मध्य प्रदेश के इंदौर में कोरोना से ठीक हुए एक मुस्लिम परिवार के 6 साल के बच्चे ने अस्पताल से बहार आकर कहा था कि ‘हम मोदी को मारेंगे’।
pm narendra modi
pm narendra modi

महिला पत्रकार से बदसलूकी : किसान आंदोलन के शाहीन बाग़ मॉडल की आपबीती !

आखिर मोदी के प्रति बच्चों में इतनी नफरत भरता कौन है ? हाल ही में वायरल हुए वीडियो में भी इसका जवाब सुना जा सकता है. किसान आंदोलन के बीच वायरल वीडियो में एक नन्हा सरदार मोदी को फांसी देने की बात कर रहा है. यह वीडियो कब का है ये स्पष्ट नहीं है. वीडियो के आखिरी में उससे पूछा जाता है की उसने ये कहाँ से सीखा तो वो विदेशी मीडिया, NDTV और बीबीसी का नाम लेता है. ट्वीटर पर ‘आलू बोंडा’ नाम के हैंडल पर वीडियो शेयर करते हुए लिखा गया है, “मोदी जैसे गंदे लोगों को फाँसी पर लटका दूँगा ~ नन्हा सरदार!” वीडियो में बच्चा कहता है की “मुझे ये भी लगता है कि ये जो मोदी है न, ये सारे पैसे लेकर भाग जाएगा। मैं बड़ा होकर आईएएस बनना चाहता हूँ। क्योंकि अगर मेरे जिले में ऐसे लोग पैदा हुए, वो गंदे लोग अगर मोदी की तरह पीएम हुए न, तो मैं उन्हें जेल में नहीं अंकल, फाँसी के ‘कंधे’ पर लटका दूँगा।”
hate against modi viral video
वीडियो कब और कहाँ का है ये स्पष्ट नहीं है, लेकिन सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. इससे पहले किसान आंदोलन में शामिल एक महिला का ‘मोदी की मौत की कामना करते’ हुए वीडियो वायरल हुआ हुआ था. पिछले साल एंटी CAA प्रदर्शन के दौरान मासूम बच्चो से लेकर बुजुर्ग महिलाओं तक के वीडियो सामने आये थे जिसमे मोदी और शाह के प्रति नफरत का ज़हर साफ झलक रहा था. मोदी हो राहुल किसी के भी प्रति बच्चों के दिमाग में ज़हर भड़ने से नुकसान उस बच्चे का ही है. बच्चों को ऐसे प्रदर्शनों, प्रोपोगंडा फ़ैलाने वाले सोशल मीडिया, मीडिया से दूर रखने जरुरत है. प्रदर्शनकारी तो एजेंडा या मांग पूरी होने के बाद घर चले जाएंगे, लेकिन आपका बच्चा दिमाग में नफरत और ज़हर के गिरफ्त में होगा.

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *